दिव्य मेधा वटी औषधि के मुख्य घटक व लाभ

By | March 8, 2021

दिव्य मेधा वटी एक आयुर्वेदिक दवा है, जिसे अनेक दुर्लभ जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया गया है | दिव्य मेधा वटी का मुख्य रूप से प्रयोग मानसिक व्याधियों को दूर करने व मन को शांत रखने में किया जाता है | मानसिक तनाव दूर करने में यह दुर्लभ औषधि पूर्ण रूप से लाभ प्रदान करने वाली है | दिव्य मेधा वटी में मौजूद हर्बल तत्व तनाव और अवसाद से राहत देने वाले कुछ खास हार्मोनों को शरीर में पैदा करने में मदद करते हैं।

दिव्य मेधा वटी के मुख्य घटक :

दिव्य मेधा वटी के निर्माण में निम्नलिखित औषधियों का प्रयोग किया गया है : ब्राह्मी -54,7mg, अश्वगंधा -43.7mg, शंख पुष्पी – 54.7mg, वाचा – 43.7mg, उस्तुखुददूस-43,7, ज्योतिष्मती-43.7mg, जटामांसी-11.25mg, गोजिह्व-17mg, सौंफ-19.3mg, जहर मोहरा-19.3mg, प्रवाल पिष्टी- 17mg, मुक्त पिष्टी- 11.25mg.

दिव्य मेधा वटी  में अश्वगंधा, शंखपुष्पी ,ब्राह्मी और जटामांसी मुख्य सामग्री होते है। ये सभी अपने मस्तिक संबंधित विकारो को दूर करने के लिए जाने जाते है।

Divya Medha Vati Benefits hindi :

Divya Medha Vati Benefits hindi

दिव्य मेधा वटी ले के लाभ :

  • दिव्य मेधा वटी के प्रयोग द्वारा भूलने की बीमारी में लाभ मिलता है इसके साथ ही याददास्त भी अच्छी होने लगती है |
  • तनाव चाहे वह किसी भी कारण से क्यों न हो, मेधा वटी के प्रयोग से लाभ अवश्य मिलता है | इसके प्रयोग से मन को शांति मिलती है | मष्तिष्क को बल मिलता है |
  • दिव्य मेधा वटी के प्रयोग से मष्तिष्क कि मांसपेशियों को बल मिलता है व नींद कि गुणवत्ता में सुधार होने लगता है | जिन लोगों को अक्सर नींद कम आती है उन्हें इस औषधि के प्रयोग से लाभ मिलता है |
  • इस चमत्कारी औषधि के प्रयोग से नर्वस सिस्टम को बल मिलता है |
  • दिव्य मेधा वटी के प्रयोग से भूख बढ़ने लगती है पाचन तंत्र ठीक से कार्य करता है व चिंता आदि से मुक्ति मिलती है |

दिव्य मेधा वटी/Divya Medha Vati Benefits hindi के उपरोक्त सभी कार्य से स्पष्ट है कि यह औषधि मुख्य रूप से मष्तिष्क पर कार्य करती है व मानसिक विकार ठीक करने में लाभकारी है |