प्रभु श्री राम जी का अचूक मंत्र

प्रभु श्री राम जी का नाम ही स्वयं में एक शक्तिशाली मंत्र है | भगवान श्री राम का नाम लेना किसी मंत्र जप से कम नहीं है | भगवान शिव को भी प्रभु श्री राम का नाम बहुत प्रिय है | भगवान श्री राम जी के नाम से जयकारे लगाना ही किसी अनुष्ठान से कम नहीं | प्रभु… Read More »

पैसा कमाते है किन्तु रुकता नहीं है | आइये जानते है, वास्तु शास्त्र की द्रष्टि से कुछ शक्तिशाली उपाय

आज के समय में पैसे कमाना सभी लोगों के लिए आवश्यकता हो गया है | पहले एक समय था जब परिवार में एक या दो व्यक्ति कमाते थे और बाकी अन्य परिवार की देखभाल करते थे | आज परिवार छोटा भी गया है | शादी होने के पश्चात बच्चे अपने माता-पिता और भाई से अलग होकर अपनी नई… Read More »

तुलसीदास जी द्वारा रचित श्री रामचरितमानस में कुल कितने अध्याय है ?

तुलसीदास जी द्वारा रचित सम्पूर्ण रामायण, जिसे आप श्री राम चरित मानस भी कहते है, में कुल 7 अध्याय है | जिनका विवरण इस प्रकार से है : Ram Charit Manas all Chapters Name : 1.  बालकाण्ड : बालकाण्ड  : मंगलाचरण , श्रीनाम वंदना, याज्ञवल्क्य-भरद्वाज-संवाद, सतीका मोह, शिव-पार्वती संवाद, नारद का अभिमान, मनु-शत रूपा का तप, प्रताप भानु… Read More »

दुर्गा सप्तशती पाठ करने के चमत्कारी लाभ

दुर्गा सप्तशती पाठ जिसका मूल नाम देवीमाहात्म्यम् है | देवीमाहात्म्यम् एक धार्मिक ग्रंथ है जो माँ दुर्गा को समर्पित है | इसमें माँ दुर्गा महिषासुर नाम के असुर का संहार करती है | देवीमाहात्म्यम् जो मार्कण्डेय पुराण का भाग है | इसमें श्लोको की सख्यां 700 होने के कारण इसे दुर्गा सप्तशती के नाम से भी जाना गया… Read More »

हाथ से बनाये यंत्र और बाज़ार के यंत्र, दोनों में कौन से अधिक प्रभावी होते है ?

रेखाओं, अंको और बीज मन्त्रों का एक ऐसा योग जो किसी विशेष देव के लिए समर्पित हो, यंत्र कहलाता है | यंत्र के महत्व को यदि हम सामान्य शब्दों में समझने का प्रयास करें तो हम ऐसा कह सकते है कि यंत्र एक प्रकार से भक्त और देव के बीच संचार माध्यम का कार्य करता है | सभी… Read More »