Husband Vashikaran Mantra | पति को वश में करने का प्रभावशाली मंत्र |

प्राचीन काल से ही कार्यों को सिद्ध करने के लिए वशीकरण विद्या का प्रयोग किया जाता रहा है | वशीकरण विद्या का प्रयोग हिन्दू धरम में नहीं अपितु सभी धर्मों में समय-समय पर किया जाता रहा है | वशीकरण के माध्यम से किसी भी पुरुष या महिला को अपने वश में कर अपने कार्य को सिद्ध किया जा… Read More »

परहित से बढ़कर और कोई धर्म नहीं !

Sabse Bada Dharam Kya Hai यदि भक्ति की समग्र व्याख्या की जाए तो यह अपने आराध्य देव के सम्मुख बैठ कर केवल कुछ प्रार्थना करना, मांग लेना अथवा पुजन के आयोजन को दूसरों के सामने प्रकट करना नहीं है | आज के समय में भक्ति प्रदर्शन से अधिक जुड़ गयी है | कई भक्ति यह चाहते है कि… Read More »

हनुमान चालीसा पाठ करने की विधि एवं लाभ

जब कभी भी किसी भक्त की निष्ठा की बात होती है तो हनुमान जी से बढ़कर और कोई नहीं | भगवान श्री राम के प्रति उनकी भक्ति सभी भक्तों के लिए प्रेरणा स्त्रोत है | हनुमान जी के जैसा भक्त न कोई हुआ है और न होगा | इसलिए भगवान श्री राम के आशीर्वाद से हनुमान जी को… Read More »

Interview में सफलता पाने के अचूक टोटके

वर्तमान समय में प्रतिस्पर्धा इतनी अधिक बढ़ गयी है कि एक आम इंसान के लिए नौकरी प्राप्त करना जीवन का सबसे बड़ा लक्ष्य बन गया है | एक समय था जब थोड़े से प्रयत्न के बाद आसानी से नौकरी मिल जाती थी | लेकिन आज तो नौकरी प्राप्त करने के जो समीकरण है वे आपके सामने है |… Read More »

रतनगढ़ के प्रसिद्द ताल वाले बालाजी का मंदिर

राजस्थान के चुरू जिले के रतनगढ़ में स्थित हनुमान जी का यह मंदिर ताल वाले बालाजी के नाम से प्रसिद्द है | जो कि जिला मुख्यालय से पश्चिम दिशा में 48 km दूरी पर रतनगढ़ स्टैंड के पास स्थित है | यह मंदिर पूर्वकालीन राजाओं द्वारा स्थापित है | इस प्राचीन प्रतिमा की स्थापना अयोध्या के हनुमान गढ़ी… Read More »

राहु-केतु गृह दोष ! राहु-केतु की दशाएँ व निवारण के सरल उपाय

राहु और केतु :- राहु और केतु का वास्तविक रूप में सौरमंडल के ग्रहों में अस्तित्व न होते हुए भी ज्योतिष की द्रष्टि में बहुत महत्व है | राहु और केतु को छाया गृह कहा जाता है | इनका वास्तविक अस्तित्व न होते हुए भी ये गृह मानव जीवन को कभी भी अस्त-व्यस्त कर सकते है | शनि… Read More »

गुरु कैसे बनाये ? इस दुनिया में एक से बढ़कर एक गुरु ! लेकिन सच्चा कौन ?

गुरु कैसे  बनाये /Guru Kaise Banaye : यदि हमने किसी को गुरु नहीं बनाया है तो हमारा कल्याण कैसे होगा ? मन में यह भावना लेकर स्थान-स्थान पर गुरु का परीक्षण करने के लिए चल पड़े | किसी भी व्यक्ति में कोई गुण नजर नहीं आया | जिसे भी ज्ञानी-गुनी समझा उसमें कोई न कोई कमी नजर आई… Read More »

भैरव के साथ में काला कुकुर(कुत्ता) क्यों ?

भैरव का अर्थ है भय का नाश करने वाला ! जब किसी भी अन्य साधनों के द्वारा मनुष्य का जीवन सुखमय नहीं हो, तब भैरव को प्रसन्न करने पर उसे चमत्कारी फल मिलने लगता है | शत्रुओं के भय का नाम भैरव है | परन्तु आपने देखा होगा भैरव के साथ में एक काला कुकुर(Bhairav ki Sawari Kala… Read More »

कपालभाति प्राणायाम | रोगों को दूर करने व स्वस्थ रहने का मूल मंत्र

मानव शरीर को रोगमुक्त करने में व शरीर को वृद्धाअवस्था में भी स्वस्थ बनाये रखने में योग एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है | योग केवल मानव शरीर को स्वस्थ करने की क्रिया ही नहीं अपितु यह तो योग का प्राथमिक कार्य है | प्राणायाम भी योग का ही हिस्सा है जो शरीर के आंतरिक भाग को बल देने… Read More »

ज्योतिष विज्ञान क्या है ? ज्योतिष विज्ञान, सिर्फ एक अनुमान या फिर विज्ञान

ज्योतिष विज्ञान भारत की ऐसी प्राचीन विद्या है जो यह प्रमाणित करती है कि हमारे सौरमंडल में सूर्य के साथ-साथ सभी 9 ग्रहों का प्रत्यक्ष रूप से मानव जीवन पर प्रभाव पड़ता है | भारतीय सभ्यता में लगभग 4000 वर्ष से भी अधिक पुराना यह ज्योतिष विज्ञान आज के समय में बहुत से विद्वानों के लिए वरदान सिद्ध… Read More »