भगवान शिव- सिद्ध तांत्रिक यंत्र ! हर प्रकार के कार्य सिद्ध करने का अचूक उपाय

By | July 31, 2018

भगवान शिव का यह तांत्रिक यंत्र स्वयं में असीमित शक्तियां रखता है | हमारे शास्त्रों में यंत्र द्वारा पूजा का विशेष महत्व माना जाता है | भगवान शिव के इस तांत्रिक यंत्र/Shiv Tantrik Yantra द्वारा उनकी आराधना करने से जातक के हर प्रकार के कार्य सिद्ध होने लगते है, चाहे वह कार्य मनोकामना पूर्ति हेतु हो या फिर कष्ट निवारण हेतु | बाबा भोलेनाथ के इस तांत्रिक यंत्र का चमत्कार आप स्वयं महसूस कर सकते है |

Shiv Tantrik Yantra :

शिव तांत्रिक यंत्र : –

Shiv Tantrik Yantra

यंत्र पूजा विधि : –

भगवान शिव के इस तांत्रिक यंत्र/Shiv Tantrik Yantra को आप ताम्रपत्र पर खुदवा या भोजपत्र पर बना सकते है | भोजपत्र पर इस यन्त्र को बनाने के लिए अष्टगंधा की स्याही का ही प्रयोग करें |

सुबह-सुबह प्रातः काल स्नान आदि से निवृत होकर सफ़ेद कपड़े धारण करें | अब पूर्व दिशा की तरफ एक चौकी पर लाल कपड़ा बिछाकर भगवान भोलेनाथ की फोटो या मूर्ती की स्थापना करें | अब शिव तांत्रिक यंत्र को चौकी पर रखे | घी का दीपक व धुप आदि लगाये | अब इस मंत्र को पढ़ते हुए भगवान भोलेनाथ की फोटो और यंत्र पर पुष्प अर्पित करें | मंत्र इस प्रकार है :

कर्पूर गौरं करुणावतारं, संसार सारं भुजगेन्द्र हारम्।
सदा वसन्तं हृदयारबिन्दे, भवं भवानि सहितं नमामि॥

अब भगवान शिव के तांत्रिक यंत्र को अक्षत(चावल), सफ़ेद आक के पुष्प और फल व मिठाई आदि अर्पित करें | एक लौटे में जल भरकर रखे | अब जल के कुछ छींटे यंत्र पर लगाये |

इसके उपरांत आप भगवान शिव का स्मरण करते हुए शिव चालीसा का पाठ करें | पाठ समाप्त होने पर – ” ॐ नमः शिवाय ” मंत्र की 3 माला का जप करें | मंत्र जप में जल्दी न करें | सहजता के साथ व लयबद्धता के साथ मंत्र जप करें | अंत में भगवान शिव की आरती करें और प्रणाम करते हुए आसन से खड़े हो जाये | अब अपने माता-पिता से आशीर्वाद ग्रहण करें |

Siddh Shiv Tantrik Yantra :

शिव तांत्रिक यंत्र को सिद्ध करने की विधि : –

कोई भी यंत्र हो वह पूर्ण रूप से अपना प्रभाव तभी दिखाता है जब उसे विधिवत सिद्ध किया जाये | भगवान शिव के इस तांत्रिक यंत्र/(Shiv Tantrik Yantra) को भी सिद्ध करने के उपरांत ही पूजा स्थल पर स्थापित किया जाना चाहिए |

शिव तांत्रिक यंत्र को इस प्रकार से सिद्ध करें : – उपरोक्त यंत्र पूजा विधि के अनुसार ही यंत्र पूजा करें | यंत्र पूजा से पहले यंत्र को पंचामृत(दूध ,दही,घी,शहद और गंगाजल के मिश्रण) से स्नान कराये | फिर गंगाजल से स्नान कराये | इसके बाद ऊपर दी गयी विधि अनुसार ही यंत्र पूजा करें | यन्त्र पूजा के पश्चात् हाथ में  जल लेकर संकल्प ले | तत्पश्चात  – ‘ॐ नमः शिवाय ‘ मंत्र के 5000 जप करें |

सम्बंधित जानकारियाँ :-

मंत्र जप के पश्चात् हवन करें | हवन में अधिक से अधिक आहुतियाँ ॐ नमः शिवाय मंत्र की दे | हवन सम्पूर्ण होने के उपरांत यन्त्र को हवन के ऊपर से 21 बार घुमाए और मन ही मन भगवान शिव का ध्यान करें | हवन की विभूति से यंत्र को तिलक करें | अब इस सिद्ध तांत्रिक यंत्र को अपने पूजा स्थल पर स्थापित करें | यदि किसी कारणवश आप इस यन्त्र को स्वयं सिद्ध नहीं कर सकते तो आप अल्टीमेट ज्ञान संस्थान द्वारा सिद्ध शिव तांत्रिक यंत्र/Shiv Tantrik Yantra प्राप्त करने के लिए हमसे संपर्क कर सकते है | संपर्क करें : 9671528510 |

2 thoughts on “भगवान शिव- सिद्ध तांत्रिक यंत्र ! हर प्रकार के कार्य सिद्ध करने का अचूक उपाय

    1. TARUN SHARMA Post author

      शिव मूर्ति का मुख पश्चिम की तरफ होना चाहिए | और पूजा के समय आपका मुख पूर्व की तरफ होना चाहिए |

      धन्यवाद्

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *