Category Archives: मंत्र संग्रह

असितांग भैरव मंत्र व जप विधि | रोग से मुक्ति पाने हेतु करे प्रयोग

असितांग भैरव को भैरव का उग्र रूप माना गया है | ऐसा माना गया है कि इस रूप में भैरव की उपासना आपके भयंकर से भयंकर रोग को भी दूर कर सकती है |कलियुग के समय में भैरव उपासना विशेष रूप से फल प्रदान करने वाली मानी गयी है | मंत्र द्वारा असितांग भैरव की एक रात्रि की… Read More »

रक्षा बंधन पर्व पर बहन, भाई को राखी बांधते समय इस मंत्र का उच्चारण करे

हिन्दू धर्म में सभी पर्वों का अपना-अपना महत्व होता है | रक्षा बंधन, हिन्दू धर्म में मनाया जाने वाला एक बड़ा पर्व है जो भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक है | रक्षाबंधन के पवित्र पर्व के दिन सभी बहने अपने-अपने भाइयों को राखी के रूप में उनकी कलाई पर रक्षा सूत्र बांधती है और उन्हें तिलक करती है… Read More »

सभी मनोकामनाएं होंगी पूर्ण भगवान शिव के इन बीज मंत्रों के जप से

मंत्र का वह संक्षिप्त रूप जो सम्पूर्ण मंत्र का प्रतिनिधित्व करता हो बीज मंत्र कहा जाता है | सभी देवी व देवताओं के बीज मंत्र होते है जो न केवल वैदिक मंत्रों की अपेक्षा शीघ्र परिणाम देने वाले है बल्कि मानव कल्याण और मोक्ष प्राप्ति भी बीज मंत्र के माध्यम से संभव है | बीज मंत्र किसी भी… Read More »

वर्ष 2020 श्रावण मास में मंत्र द्वारा शिव पूजा(उपासना)

सभी 12 माह में श्रावण मास एक ऐसा माह है जो आध्यात्मिक द्रष्टि से सबसे अधिक महत्व रखता है | यह सम्पूर्ण मास भगवान शिव उपासना के लिए समर्पित है | इस मास में सच्चे मन से शिवलिंग पूजा आपके सभी कष्टों को दूर करने वाली है | श्रावण मास में आने वाले सोमवार और शिवरात्रि पर्व विशेष… Read More »

माँ बगलामुखी के इस मंत्र से होती है समस्त मनोकामना पूर्ण

जो लोग भक्तिभाव में विश्वास रखते है वे बगलामुखी माँ के विषय में भी अवश्य ही अवगत होंगे | माँ बगलामुखी माँ शक्ति की 10 महाविद्याओं में से 8वीं महाविद्या है | माँ बगलामुखी की उपासना सबसे शक्तिशाली व शीघ्र परिणाम देने वाली है | मुख्य रूप से जो लोग मुकदमे में विजय प्राप्त करना चाहते है, शत्रु… Read More »