Category Archives: मंत्र संग्रह

भगवान श्री विष्णु के मूल मंत्र द्वारा उनकी आराधना कैसे करें ?

भगवान श्री विष्णु को सृष्टि के मूल तीन देवों में से एक माना गया है | भगवान श्री विष्णु इस सृष्टि के पालनकर्ता है | एक जातक अपने जन्म से लेकर मृत्यु तक जो भी सुख-दुःख अनुभव करता है वे सभी भगवान श्री विष्णु कृपा पर ही निर्भर है | भगवान श्री विष्णु (Bhagwan Vishnu Mantra Aradhna)को स्वभाव… Read More »

Husband Vashikaran Mantra | पति को वश में करने का प्रभावशाली मंत्र |

प्राचीन काल से ही कार्यों को सिद्ध करने के लिए वशीकरण विद्या का प्रयोग किया जाता रहा है | वशीकरण विद्या का प्रयोग हिन्दू धरम में नहीं अपितु सभी धर्मों में समय-समय पर किया जाता रहा है | वशीकरण के माध्यम से किसी भी पुरुष या महिला को अपने वश में कर अपने कार्य को सिद्ध किया जा… Read More »

मंत्र द्वारा बीमारी से पायें मुक्ति | भगवान शिव का प्रभावशाली मंत्र

जीवन में सुख और दुःख आते रहते है | यही जीवन का सत्य है वही व्यक्ति सुख की परम अनुभूति करता है जिसने दुखों का सामना किया हो | जीवन में बीमारी भी एक अभिशाप के रूप में आती है और घर में दुखों का पहाड़ लाकर खड़ा कर देती है | बीमार व्यक्ति स्वयं तो भयंकर यातना… Read More »

बीज मंत्र क्या है ? सभी देवों के बीज मंत्र और उनके उच्चारण से होने वाले लाभ

परमपिता परमेश्वर की कृपा से इस संसार में हर जीव की उत्पत्ति बीज के द्वारा ही होती है चाहे वह पेड़-पौधे हो या फिर मनुष्य योनी | बीज को जीवन की उत्पत्ति का कारक माना गया है | बीज मंत्र भी कुछ इस तरह ही कार्य करते है | हिन्दू धरम में सभी देवी-देवताओं के सम्पूर्ण मन्त्रों के… Read More »

माँ सरस्वती का यह मंत्र आपको सभी सुख और बुद्धि प्रदान करने वाला है

माँ शक्ति के विभिन्न रूपों में से एक देवी सरस्वती बुद्धि को देने वाली है | माँ सरस्वती की आराधना आपके सभी दुखों को दूर करने के साथ साथ आपके जीवन से अज्ञानता को भी दूर करती है | हाथ में वीणा लिए सदैव मुस्कराने वाली देवी सरस्वती हंस पर विराजमान है | माँ सरस्वती की आराधना से… Read More »

सभी गृह दोष दूर करने का एक परीक्षित टोटका ! गृह दोष शांति हेतु सरल टोटका

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सौरमंडल में स्थित सभी 9 गृह मानव जीवन पर प्रत्यक्ष रूप से प्रभाव डालते है | जातक की कुंडली में सभी 9 ग्रहों में से किसी एक भी गृह का प्रतिकूल प्रभाव जातक के जीवन को कष्टदायक बना सकता है | ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 7 गृह द्रश्य और 2 गृह छाया गृह( राहू… Read More »

यह है हनुमान जी का सबसे प्रिय मंत्र ! द्वाद्श्याक्षर मंत्र

हनुमान जी अपने भक्तों के भक्तिभाव और प्रेमभाव से अतिशीघ्र प्रसन्न होकर उन्हें फलीभूत करते है | सभी हनुमान भक्त अलग-अलग तरीकों से हनुमान जी की आराधना करते है | जिनमें कुछ भक्त हनुमान चालीसा , संकटमोचन हनुमान अष्टक और बजरंग बाण का पाठ कर उनकी आराधना करते है तो कुछ मंत्र जप द्वारा उन्हें खुश करते है… Read More »

काल भैरव अष्टकं मंत्र | शत्रुओं से छुटकारा,भूत-प्रेत और ऊपरी बाधा में प्रभावशाली मंत्र

भगवान शिव के रूद्र रूप कहे जाने वाले भैरव को उग्र और सौम्य दोनों रूपों में पूजा जाता है | बाल भैरव व बटुक भैरव के रूप में जहाँ भैरव सभी सुख-सम्रद्धि देने के साथ-साथ अपने भक्तों का कल्याण करते है वहीं काल भैरव/Kala Bhairava के रूप में भैरव को उग्र माना गया है | इस रूप में… Read More »

माँ लक्ष्मी का प्रभावशाली मंत्र | ऋण से मुक्ति और धन प्राप्ति के लिए इस मंत्र के जप करें |

माँ लक्ष्मी धन को देने वाली घर में खुशियाँ लाने वाली देवी है | धर्म शास्त्रों के अनुसार माँ लक्ष्मी को भगवान श्री विष्णु की पत्नी माना गया है | जो मनुष्य माँ लक्ष्मी की विधिवत पूजा -आराधना कर उन्हें प्रसन्न करता है, माँ लक्ष्मी उसे धन – वैभव देकर उसके जीवन में खुशियाँ भर देती है |… Read More »

शनि की साढ़े साती के प्रकोप को शांत करने के लिए शनिदेव के इस मंत्र का ज़प अवश्य करें |

हिन्दू धर्म के अनुसार शनिदेव को कर्मो के फल देने वाले देव कहा गया है | मनुष्य अपने कर्मो के आधार पर शनिदेव की कृपा पाते है व दण्डित भी होते है | मानव योनी में किये गये सभी पाप और पुण्य का फल शनिदेव द्वारा ही दिया जाता है | इसीलिए उनकी कृपा द्रष्टि जिस भी मनुष्य… Read More »