Category Archives: पूजा विधि

श्री दुर्गा चालीसा पढ़ने के अद्भुत फायदे/लाभ

माँ दुर्गा चालीसा के बिना मां दुर्गा की पूजा अधूरी मानी गई है। कहा जाता है कि शत्रुओं से मुक्ति, इच्छा पूर्ति के साथ सभी मुरादें दुर्गा चालीसा का पाठ नवरात्रि के समय करने से हो जाता है। धर्म की रक्षा और संसार से अंधकार मिटाने के लिए मां दुर्गा उत्तपति हुई है। शास्‍त्रों में कहा गया है… Read More »

राहु गृह शांति online पूजा

राहु को छाया ग्रह कहा जाता है,  यह रोगकारक ग्रह होता है। कई बार देखा जाता है की जातक की कुंडली में राहु खराब या अशुभ स्थिति में हो तो जातक को अनेक प्रकार की मानसिक, आर्थिक और शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। राहु की अशुभता को दूर करने के लिए राहु शांति पूजा की जाती… Read More »

काल सर्प दोष निवारण हेतु Online अनुष्ठान

कुंडली में कालसर्प दोष के होने का मुख्य कारण पूर्वजन्म में किये गये पाप या फिर पित्र दोष होते है | कुंडली में जन्म लग्न चक्र में जब सभी गृह राहू और केतु के बीच में आ जाते है तो पूर्ण रूप से घातक कालसर्प दोष बनता है | इस प्रकार छाया गृह – राहू और केतु के… Read More »

हनुमान जी के सभी 12 नाम, जप विधि व लाभ

हनुमान जी के सभी 12 नामों में हर नाम का अपना ही एक अलग महत्व है | हनुमान जी के ये सभी नाम भक्त के सभी कष्टों को दूर करने वाले है | हनुमान जी अजर-अमर है और अतिशीघ्र अपने भक्तों पर क्रपा भी करते है | सभी देवों में हनुमान जी एक ऐसे देव है जो थोड़ी… Read More »

मंदिर में हनुमान जी मूर्ति को स्पर्श करना सही या गलत !

कलियुग के समय में सबसे अधिक पूजे जाने वाले देवों में से एक हनुमान जी है | जो भक्त सच्चे मन से हनुमान जी की भक्ति करते है वे सदैव सुखी जीवन व्यतीत करते है | अन्य देवों की तुलना में हनुमान जी की भक्ति करना थोड़ी कठिन है | क्योंकि उनकी भक्ति के कुछ नियम है जिनका… Read More »