Category Archives: Uncategorized

चन्द्र यंत्र लॉकेट(तावीज) के लाभ, बनाने व सिद्ध करने की विधि

ज्योतिष शास्त्र में विश्वास रखने वाले जातक चंद्रमा के महत्व को भी अवश्य समझते होंगे | चन्द्रमा एक शीतल गृह है जो मन का कारक है | जो जातक मानसिक विकृतियों से परेशान रहते है | जिस जातक का मन अशांत रहता है या बहुत शीघ्र तनाव में आ जाते है तो समझ जाए उनकी कुंडली में चन्द्र… Read More »

इस बार नवरात्रि में मंत्र द्वारा करें माँ दुर्गा उपासना

माँ दुर्गा की उपासना शीघ्र फल देने वाली है | वर्ष में दो बार नवरात्रि का समय आता है जिसमें माँ दुर्गा को प्रत्येक दिन अलग-अलग रूप में पूजा जाता है | जो भक्त पूर्ण विश्वास व भक्तिभाव से माँ दुर्गा की उपासना करते है वे न केवल जीवन में सभी सुखों को प्राप्त करते है बल्कि माँ… Read More »

पूजा स्थल पर कौन-कौन से देव व देवी की स्थापना करनी चाहिए

हिन्दू धर्म अपने स्वतंत्र विचार और स्वेच्छा से स्वयं को अन्य धर्मो से अलग रखता है | जिस जातक का मन करता है पूजा-आराधना करने का वो करता है और जिसका मन नहीं करता, उस पर कोई दबाव नहीं | ऐसा ही कुछ नियम आपके पूजा स्थल पर लागु होता है | वैसे तो धार्मिक लोग पूजा-आराधना में… Read More »

क्या आपको भी मृत्यु से भय लगता है ? इस मंत्र का उच्चारण करें

प्रकृति का यह अटूट सत्य है जिसका जन्म हुआ है उसकी मृत्यु निश्चित है | इस नश्वर संसार में जीना हर कोई चाहता है और मरना कोई नहीं, आप भो सोच रहे होंगे यह मैंने कैसे शब्द कह दिए | भला ऐसा कौन है जिसे मरने से डर नहीं लगता | मरने से तो सबको डर लगता है… Read More »

तुलसीदास जी द्वारा रचित श्री रामचरितमानस में कुल कितने अध्याय है ?

तुलसीदास जी द्वारा रचित सम्पूर्ण रामायण, जिसे आप श्री राम चरित मानस भी कहते है, में कुल 7 अध्याय है | जिनका विवरण इस प्रकार से है : Ram Charit Manas all Chapters Name : 1.  बालकाण्ड : बालकाण्ड  : मंगलाचरण , श्रीनाम वंदना, याज्ञवल्क्य-भरद्वाज-संवाद, सतीका मोह, शिव-पार्वती संवाद, नारद का अभिमान, मनु-शत रूपा का तप, प्रताप भानु… Read More »