Category Archives: Uncategorized

सात मुखी रुद्राक्ष के मानव जीवन पर प्रभाव | सात मुखी रुद्राक्ष के लाभ एवं पहनने की विधि

भारतीय संस्कृति में रुद्राक्ष धारण करने का बड़ा ही महत्व बताया गया है | साक्षात् भगवान शिव के स्वरुप कहे जाने वाले रुद्राक्ष में बहुत से दैवीय गुण होते है | आज हम आपको सात मुखी रुद्राक्ष की विशेषताओं के विषय में विस्तृत जानकारी देने वाले है | सात मुखी/(Saat Mukhi Rudraksh ke Labh)रुद्राक्ष को माँ लक्ष्मी का… Read More »

भगवान शिव की उपासना सोमवार के दिन ही क्यों ?

शिवपुराण के अनुसार भगवान शिव की उपासना सप्ताह के प्रत्येक दिन फल देने वाली है तो फिर ऐसा क्या कारण है कि भगवान शिव की उपासना के लिए सोमवार का दिन विशेष फल देने वाला है | ऐसा प्रतीत होता है कि मनुष्य मात्र को सम्पत्ति से अत्यधिक प्रेम होता है | इसलिए उसने शिव के लिए सोमवार… Read More »

गलत तरीके से कमाया गया धन, आपकी खुशियों को ले डूबता है

आज के समय में हर व्यक्ति धन प्राप्ति की चाह में इस तरह से अंधा बन गया है कि उसके पास यह चिंतन करने का ही समय नहीं है कि वह जिस मार्ग द्वारा वह धन अर्जित कर रहा है, क्या नैतिक द्रष्टि से वह उचित है ? धन की देवी को लक्ष्मी कहा गया है | माँ… Read More »

भगवान शिव ने काल की रचना कैसे की ?

शिव महापुराण के अनुसार प्राणियों की आयु का निर्धारण करने के लिए महाकाल भगवान शंकर ने काल की कल्पना की | उसी से ही ब्रह्मा से लेकर अत्यंत छोटे जीवों तक की आयुष्य(आयु) का अनुमान लगाया जाता है | उस काल को ही व्यवस्थित करने के लिए महाकाल ने सप्तवारों की कल्पना की | सबसे पहले ज्योतिष स्वरुप… Read More »

Husband Vashikaran Mantra | पति को वश में करने का प्रभावशाली मंत्र |

प्राचीन काल से ही कार्यों को सिद्ध करने के लिए वशीकरण विद्या का प्रयोग किया जाता रहा है | वशीकरण विद्या का प्रयोग हिन्दू धरम में नहीं अपितु सभी धर्मों में समय-समय पर किया जाता रहा है | वशीकरण के माध्यम से किसी भी पुरुष या महिला को अपने वश में कर अपने कार्य को सिद्ध किया जा… Read More »

परहित से बढ़कर और कोई धर्म नहीं !

Sabse Bada Dharam Kya Hai यदि भक्ति की समग्र व्याख्या की जाए तो यह अपने आराध्य देव के सम्मुख बैठ कर केवल कुछ प्रार्थना करना, मांग लेना अथवा पुजन के आयोजन को दूसरों के सामने प्रकट करना नहीं है | आज के समय में भक्ति प्रदर्शन से अधिक जुड़ गयी है | कई भक्ति यह चाहते है कि… Read More »

Interview में सफलता पाने के अचूक टोटके

वर्तमान समय में प्रतिस्पर्धा इतनी अधिक बढ़ गयी है कि एक आम इंसान के लिए नौकरी प्राप्त करना जीवन का सबसे बड़ा लक्ष्य बन गया है | एक समय था जब थोड़े से प्रयत्न के बाद आसानी से नौकरी मिल जाती थी | लेकिन आज तो नौकरी प्राप्त करने के जो समीकरण है वे आपके सामने है |… Read More »

गुरु कैसे बनाये ? इस दुनिया में एक से बढ़कर एक गुरु ! लेकिन सच्चा कौन ?

गुरु कैसे  बनाये /Guru Kaise Banaye : यदि हमने किसी को गुरु नहीं बनाया है तो हमारा कल्याण कैसे होगा ? मन में यह भावना लेकर स्थान-स्थान पर गुरु का परीक्षण करने के लिए चल पड़े | किसी भी व्यक्ति में कोई गुण नजर नहीं आया | जिसे भी ज्ञानी-गुनी समझा उसमें कोई न कोई कमी नजर आई… Read More »

भैरव के साथ में काला कुकुर(कुत्ता) क्यों ?

भैरव का अर्थ है भय का नाश करने वाला ! जब किसी भी अन्य साधनों के द्वारा मनुष्य का जीवन सुखमय नहीं हो, तब भैरव को प्रसन्न करने पर उसे चमत्कारी फल मिलने लगता है | शत्रुओं के भय का नाम भैरव है | परन्तु आपने देखा होगा भैरव के साथ में एक काला कुकुर(Bhairav ki Sawari Kala… Read More »

धर्म के बाद क्या ? जीवन को पूर्ण आनंदित कैसे बनायें ?

धर्म के बारे में हमने आपको बताया वह कर्म वह विचार जो आपकी आत्मा को परमात्मा को ओर ले जाए, धर्म है | अब हमने किसी भी धर्म को अपनाया इसके बाद क्या करें कि हमारी निकटता परमात्मा से बनी रहे | धर्म के बाद आता है योग | योग का नाम लेते ही आपकी सोच एक अलग… Read More »