Tag Archives: Bhairav Tantrik Yantra

सिद्ध महामृत्युंजय यंत्र के लाभ व सिद्ध करने की विधि

हिन्दू धर्म में यंत्र को साक्षात् देव का रूप माना गया है | यंत्र मुख्य रूप से ताम्रपत्र या भोजपत्र पर अंकित किये जाते है | यंत्र में रेखाए – अंक और मंत्र व बीज मंत्र को व्यवस्थित रूप में भोजपत्र पर या ताम्रपत्र पर अंकित किया जाता है | यंत्र की प्राणप्रतिष्ठा किये जाने के बाद यह… Read More »

शनि यंत्र सिद्धि – शनि यंत्र की महिमा – भोजपत्र पर इस प्रकार बनाये शनि यंत्र

जहाँ जीवन में सुख-दुःख, रोग और पीडाओं की बात आती है तो इसका सीधा संबंध शनि देव से है | हिन्दू धरम में शनि देव को मनुष्य के कर्मों का फल देने के लिए एक जज के रूप में स्थान प्राप्त है | जो जातक अपने जीवन में अच्छा कर्म करता है उसे शनि देव सुख की अनुभूति… Read More »

भैरव के 7 चमत्कारिक मंत्र ! मंत्र द्वारा भैरव उपासना

भैरव बाबा अपने भक्तों पर शीघ्र प्रसन्न होकर उन्हें फल प्रदान करते है | सभी प्रकार की नकारात्मक शक्तियों से मुक्ति पाने के लिए व स्वयं को और अपने परिवार को ऊपरी बाधाओं से सुरक्षित रखने में भैरव आराधना चमत्कारिक परिणाम देने वाली है | यूँ तो सभी भक्त अपने-अपने श्रद्धा भाव से भिन्न-भिन्न प्रकार से भैरव आराधना… Read More »

भैरव के 108 नाम द्वारा भैरव उपासना

कलियुग में भैरव बाबा की उपासना आपके सभी दुखों-कष्टों को दूर करने में फलदायी मानी गयी है | तंत्र शास्त्र में भी भैरव बाबा को प्रमुख माना गया है | यद्यपि सभी भैरव भक्त अपने-अपने श्राद्ध भाव द्वारा भैरव उपासना करते है और उन्हें प्रसन्न करने का यत्न करते है | लेकिन किसी भी देव आराधना में सबसे… Read More »

भैरव का चमत्कारिक लॉकेट ! इसे गले में धारण करें और पायें सभी कष्टों से मुक्ति

कलियुग के समय में बाबा भैरव व हनुमान जी अति शीघ्र प्रसन्न होकर अपने भक्त की सभी मनोकामना पूर्ण करते है | बाबा भैरव को सौम्य और उग्र दोनों रूपों में पूजा जाता है | एक तरफ बाबा भैरव अपने उग्र रूप काल भैरव के रूप में दुष्टों का संहार करते है तो दूसरी तरफ बटुक भैरव के… Read More »