सर्दी -जुकाम व खांसी के अचूक घरेलु उपाय

By | October 11, 2017

समय समय पर होने वाले मौसम में बदलाव को हमारा शरीर एडजस्ट नहीं कर पाता और सर्दी – जुकाम व खांसी का शिकार हो जाता है | वैसे देखा जाये तो ये कोई गंभीर रोग नहीं है किन्तु इनकी चपेट में आने पर परेशानियाँ बहुत होती है | सर्दी – जुकाम और खांसी में दवाइयां कुछ ख़ास असर नहीं करती है इस प्रकार के रोग सामान्यतः कुछ दिन में अपने आप चले जाते है | किन्तु सर्दी जुकाम होने पर कुछ सावधानियां और परहेज अवश्य ही करने चाहिए अन्यथा स्थिति और भी ख़राब हो सकती है | ऐसे में जहाँ रोग 6 दिन में ठीक होना था वहीँ कभी – कभी एक महीने या इससे भी अधिक समय तक परेशान कर सकते है |       ♣ शत्रुओ पर विजय, मुकदमा जीतने के लिए, बगलामुखी मंत्र सिद्धि ♣

सर्दी – जुकाम व खांसी के शुरुआत में ही लक्षण पहचाने :- 

मौसम बदलने के दिनों में अचानक से गले में खरास की शिकायत होना, बार – बार छींके आना , सारे शरीर में हल्का दर्द , हल्का बुखार ,थकान महसूस करना , हल्की ठण्ड महसूस होना या फिर गले में बलगम की शिकायत ये सब जुकाम व खांसी के होने से पहले दिखने वाले लक्षण हो सकते है |

इस प्रकार के लक्षण महसूस होने पर व्यक्ति को कुछ दिनों के लिए ये परहेज करने चाहिए : –

  • शरीर को ढक कर रखे  | कुछ दिनों के लिए शर्ट और पेंट ही पहने,  निक्कर व छोटी टी-शर्ट का प्रयोग बिलकुल न करें | ऐसे में सर्दी लगने की शिकयत से जुकाम की तीव्रता और भी अधिक हो सकती है |
  • कुछ दिन नासिका मार्ग को पानी द्वारा साफ़ कर इसमें ऊँगली द्वारा सरसों का तेल लगाये | और साथ ही सरसों के तेल को अपनी नाभि पर लगाने की आदत बना ले | नाभि पर सरसों के तेल को लगाने से रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है | और बार -बार सर्दी लगने जैसी परेशानियों से छुटकारा मिलता है |
  • गुनगुना पानी पीना शुरू करें और साथ ही ठन्डे पानी के सेवन से कुछ दिनों के लिए बचे | कुछ दिन कोल्ड ड्रिंक्स व आइसक्रीम से दूरी बनाये |
  • गले में खरास की शिकायत होने पर हल्के गरम पानी में नमक डालकर गरारे  (gargle ) करें |  इसे दिन में 2 या 3 बार प्रयोग कर सकते है |
  • ठंडा व बासी खाना कुछ दिनों के लिए बिल्कुल बंद कर दे | कुछ दिन गरम वस्तुओं का सेवन करें |

सर्दी -जुकाम व खांसी के अचूक घरेलु उपाय

सर्दी -जुकाम व खांसी के अचूक घरेलु उपाय : –

सर्दी लगने के कारण होने वाली खांसी व जुकाम में इंग्लिश दवाइयां पूर्ण रूप से काम नहीं करती है वहीं घरेलु उपचार पूर्ण रूप से प्रभावशाली सिद्ध हुए है | आइये जानते है ऐसे ही कुछ घरेलु उपाय विस्तार से : –

  1. अदरक का आधा चम्मच रस निकाल कर इसे हल्का सा गरम कर ले | अब इसमें समान मात्रा में ही शहद मिला कर इसे खाली पेट सेवन करें | इस प्रयोग को दिन में तीन बार खाली पेट ही सेवन करें | यह प्रयोग सर्दी ,खांसी और जुकाम में अचूक औषधि का काम करता है |
  2. दूध में 1/4 चम्मच हल्दी डालकर इसे उबाल ले और सोते समय सेवन करें |
  3. दूध में अदरक , जायफल और केसर डालकर इसे अच्छे से उबाल ले, जब दूध आधा रह जाये तो इसे पी ले | जुकाम में तुरंत राहत मिलेगी |
  4. जुकाम हो जाने पर  2 चम्मच अजवायन  लेकर इसे तवे पर हल्का गरम कर ले | अब इसे एक सूती रुमाल में डालकर एक पोटली बना ले और नाक से सूंघे | इस प्रयोग को रात को सोते समय ही करें |
  5. 2 लोंग को तवे पर हल्का सेक ले और अच्छे से पीसकर इसे दूध में मिलाकर पीये | इस प्रयोग को भी रात को सोते समय ही करें |
  6. कुछ दाने ( 6 या 7 ) काली मिर्च के लेकर इन्हें घी में हल्का तड़का देकर खा ले और फिर तुरंत दूध का सेवन करें | इस प्रयोग से बंद नाक तुरंत खुल जाती है और जुकाम से लड़ने की ताकत मिलती है |
  7. मेथी को भी सर्दी ,जुकाम और खांसी के लिए अच्छी औषधि माना जाता है | एक चम्मच मेथी को 1 कप पानी में डालकर इसे अच्छे से उबाल ले | जब पानी आधा कप रह जाये तो इसे गुनगुना रहने तक ठंडा करें और एक चम्मच शहद मिलाकर सेवन करें | सर्दी , जुकाम और खांसी से शीघ्र आराम मिलेगा |
  8. लहसुन की 5 कलियां लेकर इन्हें घी में हल्का भूनकर सेवन करें | दो दिन ऐसा करने से जुकाम में राहत मिलती है |
  9. अमरुद को भूनकर खाने से खांसी , जुकाम में आराम मिलता है |
  10.  जुकाम हों जाने पर जब भी पानी पीये , नाक के दोनों छिद्रों को अंगूठे और ऊँगली से बंद कर पीये | पानी पीने के कुछ सेकंड्स बाद नाक से ऊँगली हटाये | यह एक आसान और परीक्षित प्रयोग है | जुकाम होने पर इसे प्रयोग अवश्य करें |
  11. 50 ग्राम तुलसी का पेड़ ले जिसमें – तुलसी के पत्ते , टहनी और बीज सभी हो | अब इन्हें इकट्ठा कर आधा लीटर पानी में डाल ले और इसके साथ -साथ लगभग 60 से 70 ग्राम अदरक और 10 ग्राम काली मिर्च को अच्छे से पीसकर इन्हें भी उस पानी में मिला ले | अब इस पानी को तब तक उबाले कि पानी सिर्फ 100 ग्राम ही रह जाये | इस पानी को छानकर किसी कांच की बोतल में डाल ले | जब भी इसका सेवन करें इसमें थोडा सा शहद मिलाकर सेवन करें | नोट : एक बार में 10 ग्राम से ज्यादा सेवन न करें | काफी दिन पुरानी खांसी और जुकाम भी इस प्रयोग से ठीक हो जाते है |
  12.  2 लोंग , 4 काली मिर्च के दाने , थोड़ी मात्रा में अदरक , 4 तुलसी के पत्ते और 2 पतासे लेकर इन सब को एक गिलास पानी ( 250 ml ) में डालकर तब तक उबाले जब तक कि पानी आधा कप के लगभग रह जाये | इसे देहाती भाषा में काढ़ा कहते है |सोते समय इस काढ़े का सेवन करना चाहिए | सर्दी ,खांसी ,जुकाम और हल्के बुखार में यह बहुत ही जल्द प्रभाव दिखाता है |
  13. इन सब घरेलु उपाय के अतिरिक्त यदि आप आयुर्वेदिक औषधि का प्रयोग करना चाहते है तो : बाजार से अभ्रक भस्म ले आये और शहद के साथ एक बार में 250 mg प्रयोग करें | दिन में तीन बार इस औषधि को ले सकते है |

♣ सभी रोगों और कष्टों से मुक्ति पाए | हनुमान चालीसा की प्रसिद्ध चौपाई द्वारा  ♣

सर्दी ,खांसी व जुकाम में ये घरेलु नुश्खे बहुत ही प्रभावी सिद्ध हुए है घर में प्रयोग होने वाले अधिकतर मसालें औषधि का काम करते है | किसी भी रोग के शुरू के लक्षण को यदि समय पर पता किया जाये तो यही औषधि रोग को जड़ से ख़त्म भी कर सकती है |

♣ नौकरी और व्यापार में उन्नति के अचूक उपाय 


 

90 total views, 1 views today

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *