Hanuman Pooja किस प्रकार करें हनुमान जी की पूजा ? जानिए सरल व संशिप्त विधि |

By | August 18, 2017

|| हनुमान जी Hanuman Pooja – सरल पूजा विधि ||

श्री राम भक्त हनुमान थोड़े से भक्ति भाव से ही प्रसन्न होकर अपने भक्तों पर कृपा करते है | उनकी कृपा प्राप्त करने हेतु सभी भक्तजन तरह – तरह से हनुमान जी को खुश करने का प्रयास करते है | ऐसा माना जाता है कि हनुमान जी चिरंजीवी है और इन्हें कलयुग के सबसे प्रभावशाली देव माना जाता है | श्री रामचन्द्र जी की कृपा से हनुमान जी कलियुग में अपने भक्तों का उद्धार करने हेतु इसी धरा पर विद्यमान है |मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी की उपासना के लिए विशेष माना गया है | इस दिन की गयी  हनुमान जी की पूजा विशेष फलदायी होती है | हनुमान पूजा Hanuman Pooja में सभी भक्तों को हनुमान स्तुति से शुरू कर –  हनुमान चालीसा , हनुमान अष्टक , बजरंग बाण का पाठ अवश्य करना चाहिए |

hanuman ji ki pooja kaise karen saral vidhi

Hanuman Pooja- हनुमान जी, सरल और सामान्य पूजा विधि : –

मंगलवार या शनिवार के दिन पूर्व दिशा में एक चौकी की स्थापना कर इस पर एक केसरियां(सिन्दूरी ) रंग का कपडा बिछाकर हनुमान जी की फोटो की स्थापना करें | अब एक कटोरी में थोड़े चावल लेकर इसमें गणेश जी की स्थापना करें और इसे हनुमान जी की प्रतिमा के आगे रखे | गणेश जी की स्थापना किस प्रकार करें इसके लिए आप ये post देखे : – मंत्र सिद्धि कैसे करें ? 

चौकी के दायें तरफ  एक घी का दीपक प्रज्वलित करें | इसके अतिरिक्त आप एक लौटे में शुद्ध जल , थोड़े चावल, कुमकुम , नाल( लाल धागा ), मीठे में चूरमा , भोग के लिए अग्नि और धुप व पुष्प लेकर हनुमान जी की प्रतिमा के सामने बैठ जाये |

धुप व अगरबत्ती लगाये और जल को थोडा – थोडा सभी दिशाओं में छिड़क दे और बोले हे परमपिता परमेश्वर मै सभी दिशाओं को पवित्र करता हूँ | इसके पश्चात् कटोरी में स्थापित किये गणेश जी को चावल अर्पित करें और इस मंत्र का उच्चारण करें  ” ॐ श्री गणेशाय नमः ” | अब आप थोड़े चावल हनुमान जी को अर्पित करें | इसी प्रकार से आप पहले गणेश जी को और फिर बाद में हनुमान जी को चावल अर्पित करें , कुमकम से टीका करें , पुष्प अर्पित करें , छोटे धागे के रूप में वस्त्र अर्पित करें और जय श्री राम का जाप लगातार करते रहे |

अब आप दीपक के आगे गोबर के कंडे की अग्नि द्वारा चूरमे का भोग लगाये | इतना करने के पश्चात् अब आप हनुमान जी की स्तुति मंत्र से उनकी पूजा आरम्भ करें और हनुमान चालीसा , हनुमान अष्टक व बजरंग बाण का पाठ करें, इसके पश्चात् हनुमान जी के इस मंत्र की कम से कम एक माला का जाप अवश्य करें :  ” ॐ हं हनुमते नमः ”  और अंत में हनुमान जी की आरती करें | 

Hanuman Pooja

यह एक बहुत ही सरल पूजा विधि है  जिसे सभी हनुमान भक्त कर सकते है | हनुमान जी की विधिवत उपासना विधि बहुत बड़ी और कठिन है | सभी भक्तों द्वारा इसे करना मुश्किल है | यदि फिर भी आप इस Hanuman Pooja पूजा विधि को करने के इच्छुक है तो हमें कमेंट्स के माध्यम से अपने सुझाव दे सकते है |

हनुमान जी की स्तुति के लिए आप इन मन्त्रों का उच्चारण करें : –

  1 :-  

अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं
दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम् ।
सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं
रघुपतिप्रियभक्तं वातात्मजं नमामि ॥

  2 :-

   मनोजवं मारुततुल्यवेगं जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठम ।
    वातात्मजं वानरयूथमुख्यं श्रीरामदूतं शरणं प्रपद्ये ।।

हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए  हनुमान उपासक इन कार्यों को अवश्य करें : – 

  •  हनुमान जी की उपासना करने वाले जातक प्रत्येक मंगलवार को व्रत रखे और और हनुमान जी के मंदिर दर्शन करने जरुर जाएँ |
  • सप्ताह में एक दिन मंगलवार या शनिवार को हनुमान जी के मंदिर जाकर सुंदरकाण्ड का पाठ करने से हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है |
  • हनुमान जी की उपासना करने वाले जातक समय -समय पर हनुमान जी को चौला जरुर चढ़ाएं | इसके लिए आप सिन्दूर में चमेली का तेल मिलाकर इसे हनुमान जी प्रतिमा पर नीचे से उपर की ओर लगायें और ” जय श्री राम ” के नाम का जाप करते जाये | तत्पश्चात हनुमान जी की प्रतिमा पर उन्हें जनेऊ , लंगोट के साथ – साथ चांदी के वर्क द्वारा वस्त्र अर्पित करें |
  • हनुमान जी की उपासना में पूर्ण रूप से पवित्र रहते हुए ब्रम्चार्य  का पालन करें और मांस – मदिरा से दूर रहे |

     ⇒ || रात्रि में की गयी बजरंग बाण की यह सिद्धि, तंत्र का काम करती है || 

इस प्रकार आप Hanuman Pooja  हनुमान जी की उपासना बहुत ही सरल विधि से कर सकते है | यह पूजा आप मंगलवार व शनिवार को या फिर प्रतिदिन भी कर सकते है | बस एक बात का ध्यान रखे कि मन में किसी भी प्रकार के गलत विचार न लाते हुए मांस -मदिरा से दूर अवश्य रहे अन्यथा हनुमान जी रुष्ट होकर आपको दण्डित भी कर सकते है |

    ⇒  || स्त्रियाँ मंत्र साधना किस प्रकार करें ? क्या स्त्रियाँ हनुमान साधना कर सकती है ? || 

    ⇒  || हनुमान चालीसा को एक ही दिन में सिद्ध करने की पूर्ण एवं सरल विधि ||

    ⇒   || अब हनुमान जी करेंगे सभी मनोकामना पूरी – एक परीक्षित टोटका || 

|| ॐ श्री हनुमते नमः ||


 

 

 

 

 

1,903 total views, 2 views today

Related posts:

3 thoughts on “Hanuman Pooja किस प्रकार करें हनुमान जी की पूजा ? जानिए सरल व संशिप्त विधि |

  1. Virendra Kumar Bharti

    Guru ji mein ek bahot chhota sa hanuman ji ka bhakt hu. Prabhu Shree Hanuman ji ki puja vidhivat kaise ki ja sakti hai iske bare me janna chahta hu. Agar aap bata sake to aapki mahan kripa hogi.

    Reply
    1. TARUN SHARMA Post author

      वीरेंदर जी, हनुमान जी की सरल पूजा विधि आपने इस post द्वारा जान ली होगी… हनुमान जी विधिवत पूजा का विधान बहुत बड़ा है | यहाँ पर बता पाना मुश्किल है इसलिए आप बाजार से ‘हनुमान उपासना’ किताब ले आये | इसमें आपको सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो जाएगी |

      धन्यवाद्
      अल्टीमेट ज्ञान

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *