Tag Archives: mantra sadhana

अप्सरा साधना विधि एवं लाभ | अप्सरा साधना से होती है जातक की सभी इच्छाएं पूर्ण

भगवान ने मनुष्य को हाथ-पैर और बुद्धि के साथ-साथ सीमित शाक्तियाँ ही प्रदान की है किन्तु इस बुद्धि का प्रयोग ठीक प्रकार से किया जाये तो यह मनुष्य को असीमित शक्तियों का मालिक बनाने के साथ-साथ स्वयं भगवान को जानने व उसे प्राप्त करने का मार्ग भी प्रदर्शित करती है | अध्यात्म की द्रष्टि से एक जातक का… Read More »

यक्षिणी साधना क्या है ? यक्षिणी साधना के प्रकार व मंत्र

यक्षिणी साधना भी देव साधना के समान ही सकारात्मक शक्ति प्रदान करने वाली है | आज के समय में बहुत ले लोग यक्षिणी साधना को किसी चुड़ैल साधना या दैत्य प्रकर्ति की साधना के रूप में देखते है | किन्तु यह पूर्णरूप रूप से असत्य है | जिस प्रकार हमारे शास्त्रों में 33 देवता होते है उसी प्रकार… Read More »

शास्त्रों के अनुसार मंत्र जप के समय मंत्र उच्चारण की विधियाँ

मंत्र जप के समय मंत्र का उच्चारण किस प्रकार किया जाये ? यह प्रश्न सभी साधकों के मन में अकस्मात ही उठने लगता है | शास्त्रों के अनुसार मंत्र जप चाहे वह सिद्धि प्राप्त करने के उद्देश्य से किये गये हो या फिर देव आराधना के उद्देश्य से, जिसमें मन्त्रों का उच्चारण किस स्वर में किया जाये यह… Read More »

शाबर मंत्र साधना के नियम | साधना में सफल होने के लिए आवश्यक नियम

शाबर मंत्र साधना , वैदिक मंत्र साधना की तुलना में थोड़ी आसान होती है किन्तु इसका अभिप्राय यह नहीं कि शाबर मंत्र से जुड़े नियमों को ध्यान में न रखते हुए साधना में सफल होने के प्रयास किये जाये | किसी भी साधना/Sadhna में सफलता और असफलता स्वयं साधक के हाथ में होती है | यदि साधक शाबर… Read More »

माँ काली मंत्र को सिद्ध करने की सरल विधि | माँ काली मंत्र साधना

माँ काली को माँ के सभी रूपों में सबसे शक्तिशाली स्वरुप माना गया है | भय को दूर करने वाली , बुद्धि देने वाली , शत्रुओं का नाश करने वाली माँ काली(Maa Kali) की उपासना से सभी कष्ट स्वतः ही दूर होने लगते है | माँ काली की आराधना शीघ्र फल देने वाली है | शास्त्रों में वर्णित… Read More »

साधना व मंत्र सिद्धि में ध्यान देने योग्य जरुरी बातें |

साधना की आवश्यकता क्यों ? :- साधना की क्या आवश्यकता है ? साधना क्यों करें ? वस्तुतः साधना ‘ ईश्वरत्व ‘ का बोध कराती है | आंतरिक सुप्त शक्तियों को जाग्रत करती है | जिनका सम्बन्ध अंडज (ब्रम्हांड ) से है | साधना करते समय साधक अपने अंदर स्थित जीव (सूक्ष्म तत्व ) को ‘ब्रह्म -रंध्र ‘ में… Read More »

महामृत्युंजय मंत्र का अर्थ ,जप की सरल विधि और लाभ |

Maha Mrityunjaya Mantra hindi / महामृत्युंजय मंत्र  हिन्दू धरम में सर्वोच्च माने जाने वाले देवों के देव महादेव भगवान शिव की आराधना करने से मनुष्य सभी सांसारिक सुखों को प्राप्त कर अंत में मोक्ष को प्राप्त होता है | महामृत्युंजय मंत्र(Maha Mrityunjaya Mantra hindi) भगवान शिव का सबसे बड़ा मंत्र माना जाता है | ऋग्वेद में इस मंत्र… Read More »

बटुक भैरव मंत्र साधना | भैरव मंत्र सिद्धि |

बटुक भैरव मंत्र सिद्धि सरल व संशिप्त विधि  भैरव जी के 12 स्वरूपों में से बाल भैरव और बटुक भैरव को पूर्णतः सात्विक , सुंदर व म्रदुल माना गया है | और भगवान विष्णु , राम और कृष्ण  के समान इन रूपों की पूजा भी की जाती है | भैरव जी की इस रूप में उपासना करने से… Read More »

Mantra Sidhh karne ki Saral Vidhi | मंत्र सिद्धि कैसे करें ?

Ek samay tha jab manushya apne kisi bhi karya ki poornta ke liye Mantro ka sahara leta tha aur uske karya poorn bhi hote the | Kintu aaj ke manushya ka to Dharam se hi vishvas uthata jaa rha hai | Ese me unhe Mantro ki shakti ka abhash karana ek kalpana matra hi hoga | Mantra shakshat Devtao ke hi… Read More »

माँ Baglamukhi Mantra को सिद्ध करें ! जानियें, सरल व संशिप्त विधि |

Baglamukhi Mantra Siddhi  Aaj hum aapko Maa Baglamukhi ki sadhana ke vishay me batane wale hai, Maa Baglamukhi Mantra ko siddh karne ki bahut hi saral aur sanshipt vidhi jise aap ghar par aasani se ratri ko sampann kar sakte hai. is pooja ke karne se bahut hi sheeghra fal prapt hota hai aur sabhi manokamnayen poorn hoti… Read More »