Siddha Kunjika Stotram/ सिद्ध कुंजिका स्त्रोत मंत्र को सिद्ध करने की सरल विधि !

By | October 26, 2017

हिन्दू धरम एकमात्र ऐसा धरम है जिसमें जितना सम्मान और महत्व देव पूजा को दिया जाता है उतना ही सम्मान देवी पूजन को भी दिया जाता है | माँ दुर्गा को सबसे बड़ी शक्ति के रूप में पूजा जाता है | माँ दुर्गा के अनेक रूप है जिनका विस्तार से वर्णन मार्कण्डेय पुराण के अंतर्गत देवी महात्यम में किया गया है | माँ दुर्गा की पूजा -आराधना और उनकी विशेष कृपा पाने हेतु दुर्गा सप्तशती का पाठ करना सर्वोतम माना गया है |दुर्गा सप्तशती का पाठ करने में पूजा-विधान बहुत बड़ा  होने के साथ-साथ समय भी अधिक लगता है | इसलिए जो भक्त इस पाठ के लिए समय नहीं निकाल पाते उनके लिए सिद्ध कुंजिका स्त्रोत/Siddha Kunjika Stotram का पाठ भी सप्तशती पाठ के समान ही फल देने वाला है |

Siddha Kunjika Stotram/सिद्ध कुंजिका स्त्रोत :-

सिद्ध कुंजिका स्त्रोत , दुर्गा सप्तशती पाठ का सार माना गया है | इसलिए दुर्गा सप्तशती का पाठ करने से मिलने वाला सम्पूर्ण फल आपको सिद्ध कुंजिका स्त्रोत/Siddha Kunjika Stotram पाठ के करने मात्र से प्राप्त हो जाता है | दुर्गा सप्तशती का सम्पूर्ण पाठ करने में जहाँ 2 से 3 घंटे का समय लगता है वहीं सिद्ध कुंजिका स्त्रोत का पाठ कुछ मिनट में ही पूर्ण हो जाता है | यदि आप संकल्प लेकर सिद्ध कुंजिका स्त्रोत मंत्र का नियमित जप करते है तो माँ दुर्गा के आशीर्वाद से आपकी सभी मनोकामनायें पूर्ण होती है और साथ ही इस मंत्र का प्रयोग दूसरों की भलाई के लिए भी किया जा सकता है |

siddha kunjika stotram

सिद्ध कुंजिका मंत्र को सिद्ध करने की सरल विधि : –

आज हम आपको सिद्ध कुंजिका स्त्रोत मंत्र को सिद्ध करने की सरल विधि के विषय में जानकारी देने वाले है |

सिद्ध कुंजिका स्त्रोत मंत्र / Siddha Kunjika Stotram Mantra :-

ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे। ॐ ग्लौ हुं क्लीं जूं सः 
ज्वालय ज्वालय ज्वल ज्वल प्रज्वल प्रज्वल
ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे ज्वल हं सं लं क्षं फट् स्वाहा ।।

मंत्र सिद्ध करने की विधि : – पूर्व दिशा में एक चौकी पर लाल कपडा बिछाकर माँ दुर्गा की फोटो की स्थापना करें | अब इस मंत्र को एक कागज पर लिखकर फोटो के नीचे रख दे | चौकी के बायीं तरफ एक घी का दीपक जलाये और गणेश जी की स्थापना करें | ( गणेश जी की स्थापना के लिए – एक मिट्टी की डली लेकर इस पर लाल धागे को लपेट ले और अब इसे एक कटोरी में थोड़े चावल डालकर चौकी पर स्थापित कर दे |

अब आप आसन बिछाकर चौकी के सामने बैठ जाये और सबसे पहले गणेश जी का आव्हान करे | गणेश जी के साथ -साथ सभी देवों का आव्हान करें और संकल्प लेकर माला का जप आरम्भ कर दे | किसी भी मंत्र को सिद्ध करते समय पूजा करने की सरल पूजा विधि और संकल्प किस प्रकार से ले इसके लिए आप इस post को पढ़े :- जानिए, मंत्र सिद्धि व पूजा -पाठ के समय पूजा करने की सरल विधि |

इस साधना को करने के लिए सुबह 11 बजे से पहले का एक समय सुनिश्चित कर प्रतिदिन उसी समय पर पूजा करें | इस प्रकार से माँ दुर्गा की इस साधना को 41 दिन तक करने से यह सिद्ध कुंजिका मंत्र सिद्ध हो जाता है | 41 दिन पूरे होने के बाद जितने मंत्र जप आपने इन दिनों में किये है उनका दशांश(10वां भाग ) मंत्र की आहुति द्वारा हवन करें | और हवन के पश्चात् 5 या 9 कन्याओं को भोजन कराएँ व अपने सामर्थ्य अनुसार उन्हें वस्त्र और दक्षिणा दे |  ♣ पूजा -पाठ का सम्पूर्ण फल पाने के लिए , इस प्रकार संकल्प लेना है जरुरी 

मंत्र सिद्ध करते समय ध्यान देने योग्य बातें :-

  • मंत्र सिद्ध करते समय जितने मंत्र जाप आप पहले दिन करते है उतने ही मन्त्रों का जाप प्रतिदिन करें | यदि आप चाहे तो मंत्र जप की संख्या बढ़ा सकते है किन्तु कम कदापि न करें | उदाहरण के लिए : यदि आप पहले दिन 2 माला का जाप करते है तो प्रतिदिन 2 माला का ही जप करें |
  • मंत्र सिद्धि के समय जिस स्थान पर बैठकर आप पूजा करते है उस स्थान में कोई बदलाव न करें |
  • साधना को 41 दिन तक प्रतिदिन करें | ध्यान रहें : – साधना बीच में छूटनी नहीं चाहिए |
  • साधना काल में शाकाहारी भोजन ही करें और ब्रह्मचर्य का पालन करें |

Siddha Kunjika Stotram Mantra/सिद्ध कुंजिका स्त्रोत मंत्र सिद्ध करने के लाभ : –

सिद्ध कुंजिका स्त्रोत/Sidddha Kunjika Stotram मंत्र को सिद्ध करने से जीवन में आने वाली सभी बाधाएं और पीडाएं अपने आप दूर होने लगती है | माँ दुर्गा की कृपा से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है | समाज में मान -सम्मान मिलता है | घर में घन -लक्ष्मी की वृद्धि होती है | ऐसा व्यक्ति अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त करता है |सिद्ध कुंजिका मंत्र के सिद्ध होने पर इसे दुसरे लोगों की भलाई के लिए भी प्रयोग किया जा सकता है |

⇒ ♣ हर प्रकार के भय और शत्रुओं से मुक्ति पायें , माँ दुर्गा के इस शक्तिशाली मंत्र से ♣ ⇐

1,129 total views, 6 views today

Related posts:

माँ Baglamukhi Mantra को सिद्ध करें ! जानियें, सरल व संशिप्त विधि |
Mantra Sidhh karne ki Saral Vidhi | मंत्र सिद्धि कैसे करें ?
रात्रि में की गयी बजरंग बाण की यह सिद्धि, तंत्र का काम करती है |
मंत्र सिद्धि के पश्चात् , मंत्र का परिक्षण किस प्रकार करें ?
बटुक भैरव मंत्र साधना | भैरव मंत्र सिद्धि |
स्त्रियाँ मंत्र साधना किस प्रकार करें ? क्या स्त्रियाँ हनुमान साधना कर सकती है ?
बगलामुखी मंत्र साधना | बगलामुखी मंत्र सिद्धि | बगलामुखी यंत्र सिद्धि | जानिए, सरल विधि
जानिए, मंत्र सिद्धि के समय मंत्र जप की सही विधि | मंत्र साधना के नियम |

4 thoughts on “Siddha Kunjika Stotram/ सिद्ध कुंजिका स्त्रोत मंत्र को सिद्ध करने की सरल विधि !

  1. Guru

    Are wah mja aa gya post pdkr….. Par sastri ji ek bt puchhni thi ki ek mala jpne ka mtlb kitni br mntre dohrana h

    Reply
  2. Satyaprakash yadav

    Pranam guruji,,,,,pleas mujhe mala Jap Karne ki vidhi batay

    Reply
    1. TARUN SHARMA Post author

      अल्टीमेट ज्ञान में आपका स्वागत है

      माला जाप की सही विधि के लिए आप इस विडियो को देखे : –

      https://youtu.be/lQ26e7-JvQE

      धन्यवाद्

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *