तनाव से मुक्ति कैसे पायें ? तनाव दूर करने के ये उपाय, आपका जीवन बदल देंगे

By | May 24, 2018

समय बदलने के साथ-साथ मनुष्य के जीवन में भी इतना अधिक परिवर्तन आया है कि आज के समय में पैसा कमाना ही सब कुछ बनकर रह गया है | पैसे कमाने की चाह में, दूसरों से आगे निकलने की दौड़ में इंसान अपने स्वास्थ्य की तरफ बिल्कुल ही ध्यान नहीं दे पाता | शारीरिक बिमारियों के साथ-साथ नई-नई मानसिक बिमारियों ने भी जन्म ले लिया है | तनाव/(Tanav Door Karne Ke Upay)भी एक ऐसी ही मानसिक व्याधि है जो धीरे-धीरे इंसान के स्वभाव को इतना चिडचिडा बना देती है कि सभी व्यक्ति ऐसे पीड़ित व्यक्ति से किनारा करने लगते है |

tanav door karne ke upay in hindi

तनाव क्या है :-

मष्तिष्क द्वारा लगातार किसी विषय पर गहन चितंन के साथ-साथ नकारात्मक भाव का आना तनाव को जन्म देता है | कभी-कभी हल्का तनाव जातक के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है | जैसे किसी परीक्षा की तैयारी के लिए थोडा बहुत तनाव परीक्षा के लिए बेहतर तैयारी के लिए प्रोत्साहित करने का कार्य कर सकता है | किन्तु जब यह तनाव बहुत अधिक सीमा तक बढ़ जाये तो यह जातक के स्वाभाव के साथ-साथ बहुत सी शारीरिक व्याधियों का भी कारण बन सकता है |

जैसे ही जातक का मानसिक संतुलन बिगड़ने लगता है वहीं से तनाव की शुरुआत होने लगती है | तनाव होने के बहुत से कारक हो सकते है जैसे : किसी असाध्य रोग से पीड़ित होना, परिवार में कलह , आर्थिक तंगी, नौकरी में असुरक्षा, सगे-संबंधी की मौत, प्रेम में विफलता, दाम्पत्य जीवन में कलह ऐसे ही बहुत से और भी कारक है जो जातक को तनाव से ग्रस्त कर सकते है |

तनाव से ग्रस्त व्यक्ति से लिए सबसे अच्छा उपाय है कि शीघ्र ही किसी अच्छे मनोचिकित्सक से अपना उचित उपचार कराया जाए | इसके अतिरिक्त यदि आपको लगता है कि अभी आप तनाव की ऐसी स्थिति में नहीं है कि आपको किसी मनोचिकित्सक के पास जाने की जरुरत पड़े | तो ऐसी स्थिति में आप घर पर रहकर इस post में दिए गये उपाय द्वारा मानसिक तनाव को दूर कर सकते है |

Tanav Door Karne Ke Upay :

तनाव दूर करने के उपाय :-

1.स्वयं के लिए समय जरुर निकाले :-

यदि आपने स्वयं को इतना अधिक व्यस्त कर लिया है कि आपके पास समय ही नहीं है खुद को खुश रखने का, बाहर घूमने का, परिवार को समय देने का तो आज से वो सभी काम करने लग जाए तो आपको पसंद हो | यह सब इतना आसान नहीं है लेकिन अगर समय निकाला जाये तो थोडा बहुत समय तो आप निकाल ही सकते है |

2. बच्चों के साथ समय व्यतीत करें :-

यदि आपके परिवार में कोई बच्चा है तो तनाव को दूर करने में यह आपके लिए लाभप्रद सिद्ध हो सकता है | बच्चों के साथ खेलना शुरू करें, क्योंकि बच्चों की हसी देखने मात्र से सभी दुःख दूर हो जाते है | कुछ पलों के लिए तो भयंकर दर्द से पीड़ित रोगी भी हँसते हुए बच्चे को देखकर अपना दर्द भूल जाता है |

3, सुबह जल्दी उठकर व्यायाम व योग करें :-

शरीर को स्वस्थ रखने में सुबह की सैर के साथ-साथ उचित व्यायाम और योग सबसे अधिक लाभप्रद सिद्ध हो सकते है | किन्तु ध्यान दे : तनाव में होने पर यह कार्य अकेले न करें, अपने किसी मित्र को जरुर साथ ले जाये | क्योंकि अकेले और शांत वातावरण में तनाव बढ़ने की सम्भावना सबसे अधिक होती है | इसलिए भूलकर भी अकेले और खाली तो बिल्कुल न रहे | हमेशा कुछ न कुछ करते रहे |

4. परिवार के साथ समय व्यतीत करें :-

तनाव(Tanav Door Karne Ke Upay) की स्थिति में अधिक समय अपने परिवार के सदस्यों के साथ बिताएं | अपने मित्रों के साथ बाहर घूमने का प्लान बनाएं | ऐसे लोगों से दूरियाँ बनाये जिनके साथ आपकी बनती न हो |

5. रामचरितमानस का पाठ करें :-

तनावग्रस्त व्यक्ति के लिए अध्यात्म का मार्ग किसी अँधेरे में रौशनी करने के बराबर है | ऐसे में रामचरितमानस का पाठ अर्थ सहित करने से जातक अपनी सभी मानसिक व्याधियों से छुटकारा पाता है | जब भी समय मिले रामचरितमानस के कुछ दोहे अर्थ सहित अवश्य पढ़े |

6. अपना कार्य समय पर पूरा करें :-

यदि आपके तनाव का कारण आपकी नौकरी है व कार्य की अधिकता है | तो ऐसे में स्वयं को तनाव में रखने की कोई आवश्यकता नहीं है | सबसे पहले तो यह विचार मन में लाये कि पूरा जीवन हमें काम ही तो करना है तो काम के लिए चिंता करने की क्या जरुरत | सुबह से शाम फिर सुबह से शाम, प्रतिदिन काम ही काम यह तो हर व्यस्क व्यक्ति करता है | इसमें तनाव(Tanav Door Karne Ke Upay) का कोई स्थान नहीं होना चाहिए |

अपने कार्य को समय पर पूरा करने का प्रयत्न करें | आत्मचिंतन करें कि क्यों आप अपना कार्य समय पर पूरा नहीं कर पा रहे है ? उचित कारण का पता लगाकर उसका समय रहते निवारण करें | अपनी कार्य करने की गति को बढ़ाये |

7. संतुलित आहार और भरपूर नींद ले :-

कभी-कभी लम्बे समय तक किसी विटामिन की कमी मानसिक रूप से कमजोर बना सकती है इसलिए पहले तो डॉक्टर से सलाह लेकर कुछ समय के लिए मल्टीविटामिन का प्रयोग करें व संतुलित आहार जिसमें सभी विटामिन्स और प्रोटीन उचित मात्रा में मिले, ऐसा भोजन करें | शारीरिक और मानसिक थकान दूर करने में सबसे अधिक भूमिका नींद की होती है इसलिए प्रतिदिन 8 घंटे नींद अवश्य ले |

अन्य जानकारियाँ :- 

इन सबके अतिरिक्त और भी बहुत से कार्य है जो तनाव(Tanav Door Karne Ke Upay) को दूर करने में सहायक सिद्ध हो सकते है | जैसे कर्णप्रिय संगीत सुनना, ऐसी जगह घूमने जाना जहाँ जाने की आपकी इच्छा काफी समय से थी, हमउम्र के मित्रों की टोली बनाना, सुख-दुःख को अपने दोस्तों से शेयर करना आदि |

 

 

 

 

इस Post को Share करें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *