कैसे पता करें शाबर मंत्र सिद्ध हुआ की नहीं ? सिद्ध शाबर मंत्र को प्रयोग कैसे करें ?

By | February 2, 2018

शाबर मंत्र साधना व वैदिक मंत्र साधना के पश्चात् अधिकतर साधकों के मन में यह प्रश्न उठता है कि उनके द्वारा सिद्ध किया गया मंत्र सिद्ध हुआ कि नहीं | मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात् उसे किस प्रकार से प्रयोग करना है ? यह प्रश्न भी महत्वपूर्ण है | वैसे तो दोनों प्रकार के मन्त्रों को प्रयोग करने की विधि एक जैसी है किन्तु शाबर मंत्र के विषय में एक प्रश्न उठता है कि ये मंत्र तो पहले से ही सिद्ध होते है तो इनको सिद्ध करने की क्या आवश्यकता है ? शाबर मंत्र साधना में शाबर मन्त्रों को सिद्ध(Shabar Mantra Siddhi Mantra Prayog Vidhi) नहीं किया जाता बल्कि इन मन्त्रों में परिपक्वता लाने के लिए एक निश्चत संख्या में मंत्र जप किये जाते है |

shabar mantra siddhi mantra prayog vidhi

इस चन्द्र ग्रहण पर बहुत से साधकों में शाबर मंत्र साधना(Shabar Mantra Siddhi Mantra Prayog Vidhi) में सफलता प्राप्त की होगी, तो आइये जानते है मंत्र सिद्ध होने पर मंत्र का प्रयोग किस प्रकार से करना है : –

वैदिक मंत्र साधना में मंत्र का प्रयोग :-

किसी भी वैदिक मंत्र को 41 दिनों तक नियमित रूप से द्रढ़ संकल्प व पूर्ण निष्ठा के साथ किये गये मंत्र जप मंत्र साधना में सफलता प्रदान करते है | वैदिक मंत्र साधना/Mantra Sadhna के पश्चात् मंत्र का प्रयोग इस प्रकार करें : –

अपने ईष्ट देव पर पूर्ण विश्वास रखते हुए जिस मंत्र को आपने सिद्ध किया है उसके देव का 3 स्मरण मंत्र प्रयोग करने से पहले करें, ऐसा करने के पश्चात् मंत्र का उच्चारण करें और फिर से 3 बार देव का स्मरण करें और अपने देव से उस कार्य की पूर्णता की अरदास लगा दे | उदहारण के लिए : माँ बगलामुखी मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात् जब भी इसे प्रयोग करें : पहले 3 बार ॐ श्री बगलामुखी देव्यै नमः इस मंत्र से माँ बगलामुखी का स्मरण करें फिर उस मंत्र का उच्चारण करें जिसकों आपने सिद्ध किया है, अब फिर से 3 बार ॐ श्री बगलामुखी देव्यै नमः द्वारा माँ का ध्यान करें | और अब माँ बगलामुखी से अपने कार्य की पूर्णता की अरदास लगा दे |

हनुमान जी के किसी भी मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात् आप कार्य की पूर्णता के लिए पहले 3 बार जय श्री राम बोले फिर मंत्र का उच्चारण करें और अंत में 3 बार जय श्री राम बोले और हनुमान जी से अपने कार्य की पूर्णता की अरदास लगा दे |

Shabar Mantra Siddhi Mantra Prayog Vidhi :

शाबर मंत्र साधना के पश्चात् मंत्र प्रयोग विधि :-

शाबर मंत्र साधना/Shabar Mantra Sadhna के पश्चात् आप शाबर मंत्र का प्रयोग भी ठीक वैदिक मंत्र जैसे ही कर सकते है | किन्तु कभी कभी यह स्पष्ट न होने पर कि यह शाबर मंत्र किस देव का है ऐसे में आप मंत्र को प्रयोग करते समय शुरू में 3 बार ॐ श्री परमात्मने नमः का जप करें और फिर शाबर मंत्र का उच्चारण करें और अंत में फिर से 3 बार ॐ श्री परमात्मने नमः का जप कर परमपिता परमेश्वर से अपने कार्य की पूर्णता की अरदास लगा दे |

किसी बीमारी या नजर के दोष या ऊपरी बाधा के सन्दर्भ में किसी शाबर मंत्र का प्रयोग/Mantra Prayog किसी पीड़ित व्यक्ति पर उपरोत्क विधि अनुसार ही करें व उसे 3 या 7 दिन के समय अन्तराल पर 3 बार शाबर मंत्र द्वारा झाड़ा करें |

अन्य जानकरियाँ :- 

अपने ईष्ट देव पर पूर्ण विश्वास रखते हुए मंत्र का प्रयोग करें | मंत्र साधना के पश्चात् मंत्र का प्रयोग/Mantra Prayog जितना अधिक निस्वार्थ भाव से दूसरों के लिए आप करेंगे, आपके द्वारा सिद्ध किये गये मन्त्रों में परिपक्वता और अधिक आने लगेगी | नोट : शाबर मन्त्रों(Shabar Mantra Siddhi Mantra Prayog Vidhi) का प्रयोग आप किसी को हानि पहुचाने के उद्देश्य से कदापि न करें, ऐसा करने से मन्त्रों में आई परिपक्वता समाप्त होने लगती है |

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *