पेट कम करने के Best योगासन | सिर्फ एक महीने में पेट की चर्बी गायब |

By | November 13, 2017

पेट की चर्बी बढ़ने की समस्या से आज हर दूसरा व्यक्ति परेशान है | पेट बढ़ने की समस्या की शुरुआत इनती धीमी होती है की इसके शुरुआत में तो आप इसे अनुभव तक नहीं कर पाते | और जब तक आप इस समस्या को अनुभव करते है बहुत देर हो चुकी होती है | आपका पेट इतना बाहर आ चुका होता है कि अब इसे कंट्रोल करना बहुत कठिन हो जाता है किन्तु असंभव नहीं | यदि आप भी पेट बढ़ने की समस्या से पीड़ित है तो आपको आज से ही अपने पेट को कम के लिए घरेलु उपाय और कुछ जरुरी योगासन पर ध्यान देने की आवश्यकता है | पेट कम करने  के लिए योगासन(Pet ke liye Yoga hindi ) किसी वरदान से कम नहीं किन्तु जरुरी है कि आप इन योगासनों को समय पर और नियमित रूप से करें | 

pet ke liye yoga hindi

आपका बढ़ा हुआ पेट आपकी शारीरिक सुंदरता के साथ-साथ आपके स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव डालता है | लम्बे समय तक पेट( मोटापा ) रहने पर आपको  cholesterol , Diabetes , Heart Problems जैसी जानलेवा बीमारी हो सकती है | इसलिए यदि आप अपने स्वास्थ्य के प्रति थोड़े से भी जागरूक है तो आज से ही अपने बढ़े हुए पेट के लिए उपाय करना शुरू कर दीजिये | पेट कम करने में घरेलु उपाय, योगासन व कुछ जरुरी आसन आश्चर्यजनक लाभ देते है | Pet ke liye Yoga hindi पेट (मोटापा) कम करने के घरेलु उपाय के विषय में आप इस post को पढ़ सकते है : –  मोटापा कम करने के जबरदस्त घरेलु उपाय

पेट के लिए योगासन/ Pet ke Liye Yoga Hindi me : –

बढे हुए पेट को कंट्रोल करने का सबसे उत्तम तरीका योगासन है | योगासन से पेट को ही नहीं और बल्कि पूरे शरीर को भी आश्चर्यजनक लाभ मिलते है | इसलिए आज से ही अपने अच्छे स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए योगासन करना शुरू कर दे | तो आइये जानते है कुछ ऐसे योगासन के विषय में जो विशेष रूप से पेट की बढ़ी हुई चर्बी कम करने में आश्चर्यजनक लाभ देते है : –

1. सूर्य नमस्कार :- 

यह एकमात्र ऐसा आसन है जिसे यदि विधि अनुसार किया जाये तो किसी दुसरे आसन को करने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती | सूर्य नमस्कार आसन में सूर्य देव को नमस्कार किया जाता है | नियमित रूप से सूर्य नमस्कार आसन करने से शरीर स्वस्थ रहता है मन शांत रहता है और पेट की अतरिक्त चर्बी धीरे-धीरे कम होने लगती है | शरीर का आकार आकर्षक बनाने के लिए भी इस आसन का प्रयोग किया जा सकता है | तो आइये जानते है सूर्य नमस्कार करने की विधि के विषय में (Pet ke Liye Yoga Hindi) : –

खुले और शांत वातावरण में सुबह के समय एक आसन बिछाकर सीधे खड़े हो जाये | सबसे पहले हाथ जोड़कर सूर्य को नमस्कार करें अब धीरे -धीरे सांस अंदर ले जाते हुए दोनों हाथों को सामने की तरफ रखते हुए ऊपर ले जाये | अब दोनों हाथो का खिचाव उपर तरफ रखते हुए  हाथों को थोडा पीछे की तरफ ले जाये | अवस्था में कुछ सेकंड्स रुके और इस दौरान धीमे-धीमे  साँस लेते रहे | Surya Namskar steps

अब धीरे-धीरे सांस को छोड़ते हुए हाथ को सामने की तरफ लाते हुए नीचे झुक जाये, दोनों हाथों से पैर की एडी को छूने का प्रयास करें और सर को घुटनों से लगाये :-surya namskar steps

अब आप अपने बाएं पैर को पूरा पीछे ले जाये और सीधा कर ले और सामने की तरफ देखे व धीमे-धीमे सांस लेते रहे | ऐसा करने के पश्चात् दुसरे पैर को भी अब पीछे की तरफ ले जाये और सामने की तरफ देखते रहे | इस स्थिति को दंड आसन कहते है ठीक से समझने के लिए नीचे चित्र देखे : –

अब आप दोनों घुटनों को नीचे जमीन पर टिकाये और इसी अवस्था में शरीर को अब थोडा पीछे ले जाये | और अब शरीर को आगे ले जाये व दोनों कोहनियों को मोड़कर अपनी छाती को जमीन से स्पर्श कराये व साथ ही अपनी ठोड़ी को भी जमीन से स्पर्श कराये | इस अवस्था में आपके दोनों पैरों के पंजे , घुटने , छाती और ठोड़ी जमीन से सपर्श कर चाहिए :-

अब दोनों कूल्हों को जमीन पर टिकाते हुए धीरे-धीरे फेफड़ों में सांस भरते हुए छाती को उपर उठाये, पेट को जमीन पर स्पर्श रहने दे | छाती को उपर उठाने से दोनों हाथ सीधे हो जायेंगे | इस अवस्था में सिर और गर्दन के हिस्से को पीछे की तरफ ले जाये, जैसे की चित्र में दिखाया गया है :

अब आप कूल्हों को इतना उपर उठाये जब तक की आपके दोनों घुटने बिल्कुल सीधे न हो जाये | इस अवस्था में आप दोनों पैर और दोनों हाथ जमीन से स्पर्श करते हुए कुल्हे ऊपर ही रखे :-

अब दोनों हाथों की हथेलियों के बीच अपने दायें पैर को लाये | बाएं पैर को जमीन से सटाए रखे और कूल्हों को नीचे जमीन की तरफ दबाये व सामने की तरफ देखे | धीमे-धीमे सांस सांस लेते रहे :-

अब बाएं पैर को भी दायें पैर के साथ आगे दोनों हथेलियों के बीच ले आये | और अपने सिर को दोनों घुटनों से स्पर्श कराने का प्रयास करें :

अब धीरे-धीरे फेफड़ों में साँस भरते हुए दोनों हाथों को सामने लाते हुए कन्धों के उपर ले जाये | दोनों हाथों को बिल्कुल सीधे रखते हुए कमर से ऊपर के हिस्से को थोडा पीछे ले जाये : –

Surya Namskar steps

ऐसा करने के उपरांत दोनों हाथों को साइड में खोलते हुए नीचे ले आये और अंत में नमस्कार करें : –

सूर्य नमस्कार आसन पेट कम करने के साथ-साथ पूरे शरीर को हष्ट-पुष्ट व फुर्तीला बनाता है | इसलिए आज से ही(Pet ke liye Yoga hindi) पेट कम करने के लिए सर्वोत्तम योगासन के चुनाव में अपने दैनिक जीवन में सूर्य नमस्कार आसन को कम से कम 2 बार अवश्य करें |

2. पश्चिमोतानासन :- 

पश्चिमोतानासन बैठ कर किया जाने वाला आसन है | पेट होने पर यह पूर्ण रूप से नहीं हो पाता किन्तु जितना हो सके करने का प्रयत्न करना चाहिए | इस आसन के परिणाम शीघ्र ही सामने आने लगते है और आपके पेट की अतिरिक्त चर्बी गायब होने लगती है |

विधि : – आसन बिछाकर बैठ जाये, दोनों पैरों को सीधा कर ले और कमर भी सीधी रखे | इस अवस्था में आपके दोनों पैरों के पंजे और एडी एक दुसरे से जुड़े होने चाहिए | अब फेफड़ों में सांस भरते हुए दोनों हाथों को साइड में फैलाते हुए ऊपर ले जाये | इसके बाद कमर को मोड़ते हुए दोनों हाथों को सीधे ही आगे ले आये व हाथों से दोनों पैरों की एडी को पकडे | इस अवस्था में अपने सिर को दोनों घुटनों से लगाने का प्रयास करें | घुटनों मोड़े नहीं, शुरू में ऐसा करना थोडा मुश्किल होता है इसलिए आप थोड़े घुटने मोड़ सकते है | बाद में अभ्यास होने पर इस आसन को बिना घुटने मोड़े ही करना अधिक लाभप्रद है | इस अवस्था में 20 से 30 सेकंड्स रुकने का प्रयास करें | अब धीरे-धीरे वापिस अपनी कमर को सीधी करें और साथ ही हाथों को भी उपर ले जाये | और अंत में हाथों को नीचे ले आये |

pet ke liye yoga in hindi

पश्चिमोतानासन आसन के सबसे अधिक लाभ पेट को मिलते है और साथ ही कब्ज आदि की शिकायत से मुक्ति मिलती है |

3.  बालासन :- 

यह एक बहुत ही सरल आसन है जिसे आप आसानी से कर सकते है | और इसका सबसे अधिक लाभ आपको पेट की चर्बी कम करने में मिल सकता है | इस आसन को करने से सम्पूर्ण शरीर को शांति मिलती है और थकान भी दूर होती है | तो आइये जानते है इस आसन को किस प्रकार से करें : –

विधि : आसन बिछाकर वज्रासन स्थिति में बैठ जाये | इस स्थिति में दोनों घुटनों को मोड़कर पैरों की एडी को अपने कूल्हों के नीचे ले आये | अपने कूल्हों का सारा वजन पैरों की एडी वाले स्थान पर आना चाहिए | पैरों के पंजो को भी सीधा कर ले | अब कमर और सिर को नीचे जमीन पर आगे की तरफ झुका दे व सिर को जमीन से स्पर्श कराये | हाथों को सामने की तरफ सीधा कर ले | और अब दोनों हाथों को धीरे-धीरे अपने पीछे ले जाये | इस अवस्था में आप 2 से 3 मिनट तक रुके फिर वापस आ जाये | Pet ke liye Yoga Hindi/पेट कम करने के लिए बालासन आसन को कम से कम 3 बार दोहराएँ |

pe kam karne ke yoga

4. नौकासन : –

नौकासन आसन सबसे अधिक प्रभाव पाचन तंत्र पर होता है | इस आसन को प्रतिदिन करने से पेट से सम्बंधित सभी बीमारियाँ ठीक होने लगती है और साथ ही पेट की अतिरिक्त चर्बी भी कम होने लगती है | यदि आप Pet ke Liye Yoga Hindi पेट के लिए कोई ऐसा आसन चाहते है जो पेट की चर्बी के साथ-साथ पाचन तंत्र भी ठीक करें तो यह नौकासन आपके लिए सबसे उपयुक्त रहेगा | तो आइये जानते है नौकासन आसन करने की विधि : –

विधि : – एक आसन बिछाकर सबसे पहले सीधे पीठ के बल लेट जाये | दोनों पैरों को मिलाते हुए उपर उठाये और हाथ को हथेली के बल सीधे जमीन की तरफ ही रखे | अब धीरे-धीरे कमर से ऊपर के हिस्से के साथ-साथ हाथों को भी ऊपर उठाये, सिर्फ आपके नितंभ ही जमीन पर होने चाहिए बाकि का हिस्सा नीचे दिए गये चित्र के अनुसार होना चाहिए :

नौकासन हिंदी

5. कपाल भाति प्राणायाम :-

कपाल भाति प्राणायाम शरीर का वजन कम करने के लिए सबसे अधिक प्रभावशाली सिद्ध हुआ है | कपाल भाति प्राणायाम से शरीर में नई उर्जा का संचार होता है | पूरे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है | वर्तमान समय में कुछ शोधकर्ताओं द्वारा तो यह दावा भी किया गया है कि कपालभाती प्राणायाम से शरीर की 70 से 80% बिमारियों को ठीक किया जा सकता है | किन्तु इसमें कोई दो राय नहीं कि पेट की चर्बी कम करने में कपाल भाति प्राणायाम से अधिक प्रभावशाली कोई दूसरा योगासन नहीं है | तो आइये जानते है कपाल भाति प्राणायाम करने की विधि :

विधि : – आसन बिछाकर आराम से कमर को सीधे करके बैठ जाये | अपने दोनों हाथों को अपने घुटनों पर रखे | अब फेफड़ों में एक गहरी सांस ले , अब सांस को बाहर छोड़ते हुए पेट के हिस्से को अंदर की तरफ खींचे | इस स्थिति में पेट की मासपेशियों सिकुड़ जाती है इन्हें आप पेट पर हाथ रखकर महसूस भी कर सकते है | अब सांस को फिर से फेफड़ों में भरे, ऐसा करते ही पेट को ढीला छोड़ दे और बाहर की तरफ आने दे | इस प्रकार जैसे ही आप सांस बाहर छोड़े पेट को अंदर की तरफ धकेले व सांस लेते समय पेट को ढीला छोड़ बाहर आने दे | सांस लेने व छोड़ने की इस क्रिया को तेज गति से , माध्यम गति से व धीमी गति से कर सकते है |

ऊपर दिए गये सभी (Pet Ke Liye Yoga Hindi) योगासन पेट की चर्बी कम करने में आश्चर्यजनक परिणाम देते है | किन्तु योगासन द्वारा पेट की चर्बी कम करने के लिए आपको लम्बे समय तक योगासन करते रहने होंगे | जैसे ही आप पेट की अतिरिक्त चर्बी को कंट्रोल कर लेते है, योगासन करना बंद न करें अन्यथा पेट की चर्बी फिर से बढ़ने लगेगी | योगासन को अपने दैनिक जीवन का हिस्सा बनाये और अच्छे स्वास्थ्य के साथ-साथ सुख और शांति का अनुभव करें |

⇒ ♣  मोटापा कम करने के जबरदस्त घरेलु उपाय  ♣ ⇐ 

⇒ ♣ सर्दी -जुकाम व खांसी के अचूक घरेलु उपाय ♣ ⇐ 

188 total views, 2 views today

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *